डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) सुविधा एलआईसी प्रीमयम भुगतान के लिये

क्या आप अपनी पिछली एलआईसी की किश्त समय पर देना भूल गये हैं? क्या आपको किश्त भुगतान तिथि याद रखना एक सिर दर्द लगता है? क्या आपकी सभी पॉलिसियों की भुगतान तिथि अलग अलग है? क्या ईसीएस के माधयम से पॉलिसी प्रीमियम भुगतान करना चाहते हैं, पर आपके बैंक में यह सुविधा उपलब्ध नही है? यदि हाँ, तो हल है एलाआईसी की डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) प्रीमियम भुगतान सुविधा, बस आपका बैंक खाता आईसीआईसीआई, कोर्पोरेशन बैंक या भारतीय स्टेट बैंक की किसी भी शाखा में होना चाहिये।

To read this Article in English Click Here direct debit

अभी तक सिर्फ इन्ही तीन बैंक के साथ एलाअईसी की डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) प्रीमियम भुगतान सुविधा उपलब्ध है। डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) सुविधा और  ईसीएस सुविधा में एक छोटा सा अंतर है,  ईसीएस सुविधा में बैंक और एलआईसी के बीच  ईसीएस  प्रोसेसिंग सेंटर के माध्यम से भुगतान होता है जबकि, डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) सुविधा  मे बैंक प्रीमियम भुगतान तिथि पर खाता धारक के खाते से पैसे काट कर एलआईसी के पूल खाते मे जमा कर देता है, और एलाआईसी फिर प्रीमियम पॉलिसी धारक की पॉलिसी में समायोजित कर देता है।  इस सुविधा का लाभ आईसीआईसीआई, कोर्पोरेशन बैंक या भारतीय स्टेट बैंक की किसी भी शाखा के खाता धारक ले सकते हैं, चाहे वह शाखा में ईसीएस सुविधा हो या नही हो। खासतौर से ग्रामीण शाखाएं ईसीएस  प्रोसेसिंग सेंटर से नही जुडी होती है, ऐसी शाखाओं के खाता धारकों के लिए यह एक काफी उपयोगी सुविधा है। डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) सुविधा नये तथा पुराने सभी बीमा धारकों के लिये उपलब्ध है।

डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) सुविधा को निम्नानुसार चालु कराया जा सकता है

  1. डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) के लिये निर्धारित फॉर्म भरें (2 प्रति में)
  2. एक प्रति को अपनी बैंक शाखा में जमा करायें, तथा दूसरी प्रति को बैंक से प्रति हस्ताक्षरित करायें।
  3. दूसरी प्रति हस्ताक्षरित प्रति को अपनी एलआईसी की शाखा में जमा करायें, जो की बहुत अनिवार्य है, ध्यान रहे की एलआईसी बिना प्रति हस्ताक्षरित फॉर्म स्वीकार नही करती है

डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) से संबंधित अन्य आवश्यक जानकारियाँ

  1. डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) सुविधा को कभी भी एवं कसी भी प्रीमियम भुगतान प्रकार के लिये लिया जा सक्ता है।
  2. डेबिट दिनाँक पर पॉलिसी धारक के खाते में पर्याप्त रकम होनी चाहिये।
  3. अगर डेबिट “अपर्याप्त शेषराशि” के कारण से अनाद्रत होता है तो प्रति लेन देन रू. 125 का शुल्क एलआईसी द्वारा लिया जायेगा।
  4. अगर कोई भी देय प्रीमियम अनाद्रत होती है तो, बीमा धारक को भुगतान करने की दिनाँक तक देय सभी प्रीमियम एवं शुल्क एलआईसी की शाखा में जमा कराना आवश्यक है।

डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) के मेंडेट फॉर्म को डाउनलोड करने के लिये यहाँ क्लिक करें

1 Comment on "डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) सुविधा एलआईसी प्रीमयम भुगतान के लिये"

  1. “एलआईसी ई-सेवाएँ”- जानकारी एवं रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

Leave a comment

Your email address will not be published.


*